बुधवार, अक्टूबर 20, 2021
होममध्यप्रदेशकिसानों का इंतजार खत्म, 3 दिन बाद शुरु होगी समर्थन मूल्य पर...

किसानों का इंतजार खत्म, 3 दिन बाद शुरु होगी समर्थन मूल्य पर मूंग की खरीदी

मध्यप्रदेश में समर्थन मूल्य पर मूंग की खरीदी के लिए किसानों का इंतजार अब खत्म होने वाला है। आज से 3 दिन बाद यानि 15 जून से समर्थन मूल्य पर मूंग की खरीदी की जाएगी। खास बात ये है कि अब भोपाल में भी किसानों से समर्थन मूल्य पर मूंग की खरीदी की जाएगी। जल्द ही इस संदर्भ में आदेश जारी होंगे, इसके बाद तुलाई केंद्रों पर खरीदी शुरू हो जाएगी।

इसके लिए 8 जून से पंजीयन शुरु गया है और अबतक कई किसानों ने पंजीयन भी करवा लिया है। वही केन्द्र सरकार द्वारा मूँग का समर्थन मूल्य 7 हजार 196 रुपये प्रति क्विंटल निश्चित किया गया है। वही कृषि मंत्री कमल पटेल भी कह चुके है कि इस वर्ष ग्रीष्मकालीन मूँग 2 लाख 8 हजार हेक्टेयर में बोई गई, जबकि गत वर्ष एक लाख 82 हजार हेक्टेयर क्षेत्र में बोनी हुई थी। इस वर्ष मूँग की फसल की स्थिति अच्छी होने से औसत फसल उत्पादकता 15 क्विंटल प्राप्त हो रही है। इससे 3.10 लाख मीट्रिक टन फसल उत्पादन प्राप्त होना अनुमानित है।

वही मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भी किसानों को राहत देते हुए ऐलान किया था मध्यप्रदेश में मूंग और उड़द की खरीदी 15 जून से 90 दिनों तक की जाएगी।इससे ना सिर्फ किसानों को उनकी उपज का उचित दाम मिलेंगे बल्कि बाजार भाव सुधरेंगे। साथ ही मूंग की फसल बरसात में खरीदनी होगी, इसके लिए पर्याप्त व्यवस्था की जा रही है। उन्हीं केन्द्रों पर खरीदी होगी जहाँ मूंग को सुरक्षित रखने की व्यवस्था हो। प्रदेश में पर्याप्त स्थानों पर खरीदी केन्द्र खोले जाएँगे।

बता दे कि यह पहला मौका है जब MP में गेहूं, चना, मसूर और सरसों के बाद अब मूंग की खरीदी समर्थन मूल्य पर होने जा रही है।ग्रीष्मकालीन मूँग की फसल कम समय में अधिक लाभ देने वाली है। इसमें 60 दिन की अवधि में ही फसल तैयार हो जाती है। ग्रीष्मकालीन मूँग कम लागत में अधिक लाभ प्रदाय करने वाली फसल है। वही मध्य प्रदेश में मानसून से पहले मूंग की फसल आ जाती है। खास करके होशंगाबाद, हरदा, नरसिंहपुर, विदिशा, रायसेन, जबलपुर सहित अन्य जिलों में ग्रीष्मकालीन मूंग की खेती बड़े पैमाने पर होती है।

RELATED ARTICLES

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments