गुरूवार, सितम्बर 23, 2021
होमBreaking Newsमुख्यमंत्री शिवराज के अधिकारियों को निर्देश, वैक्सीनेशन प्लान पर जोर

मुख्यमंत्री शिवराज के अधिकारियों को निर्देश, वैक्सीनेशन प्लान पर जोर

मुख्यमंत्री शिवराज के अधिकारियों को निर्देश, वैक्सीनेशन प्लान पर जोर

मुख्यमंत्री शिवराज के अधिकारियों को निर्देश, वैक्सीनेशन प्लान पर जोर: प्रदेश में कोरोना के कम होती रफ्तार के बीच अब उस टीकाकरण पर जोर दिया जा रहा है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा औद्योगिक संगठनों के साथ वर्चुअल संवाद किया गया था। इस बैठक में औद्योगिक जगत ने वैक्सीनेशन प्लान तैयार करने पर चर्चा की गई। इसके साथ ही औद्योगिक नीति और निवेश संवर्धन के लिए सीएम शिवराज द्वारा संजय शुक्ला को नोडल अधिकारी नियुक्त किया गया है। इसके साथ ही मध्य प्रदेश में IT-ITV मॉडल पर काम करने के निर्देश शिवराज ने अधिकारियों को दिए हैं।

बैठक करते हुए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कॉर्पोरेट सेक्टर से अपील की है कि वह टीकाकरण के कार्य के लिए आगे आए। सीएम शिवराज ने कहा कि कोरोना केसों में लगातार कमी देखी जा रही है लेकिन मध्य प्रदेश को वैक्सीन के निर्माण में तेजी लानी होगी और अगर मध्यप्रदेश ऐसा करने में सफल होता है तो यह देश के लिए बहुत बड़ी सफलता होगी। सीएम शिवराज ने कहा कि प्रदेश में वैक्सीन उत्पादन के लिए जो भी निजी कंपनियां सामने आना चाहती है वह आगे आए। सरकार द्वारा उनकी पूरी मदद की जाएगी।

प्रदेश में ऑक्सीजन उपलब्धता की जानकारी देते हुए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने बताया कि प्रदेश में जब कोरोना का प्रकोप शुरू हुआ था। प्रतिदिन 80 मीटर ऑक्सीजन उपलब्ध थी लेकिन अभी उपलब्धि बढ़कर 650 तक पहुंच गई है। अस्पताल में ऑक्सीजन की आवश्यकता में कमी देखी जा रही है। कोरोना केस में लगातार कमी देखी जा रही है। भविष्य के लिए अस्पताल में ऑक्सीजन आपूर्ति के लिए 100 से अधिक ऑक्सीजन प्लांट स्वीकृत किए गए हैं।

ब्लैक फंगस पर बोलते हुए सीएम शिवराज ने कहा कि भोपाल, जबलपुर, इंदौर, ग्वालियर मेडिकल कॉलेज में ब्लैक फंगस का इलाज के लिए इकाई स्थापित की जा रही है। वहीं कोरोना की तीसरी लहर के लिए हमें पहले से तैयार होना होगा। कोरोना की तीसरी लहर बच्चों के बीमार होने की आशंका जताई गई है। इसके लिए हमें डॉक्टर-विशेषज्ञों का दल गठन कर संबंधित तैयारियां शुरू करनी होगी। इसके साथ ही प्रदेश में संक्रमण की चेन को तोड़ने के लिए मध्य प्रदेश को IT-ITV मॉडल पर काम करना होगा। जिसका अर्थ है आईडेंटिफाई, टेस्ट, आइसोलेट, ट्रीट एंड वैक्सीनेट।

RELATED ARTICLES

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments