गुरूवार, अक्टूबर 21, 2021
होमदेशसभी भारतीयों का डीएनए एक है : मोहन भागवत

सभी भारतीयों का डीएनए एक है : मोहन भागवत

मुस्लिम राष्ट्रीय मंच की केंद्रीय कार्यकारिणी की गाजियाबाद में शुरू हुई दो दिवसीय बैठक में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरसंघचालक मोहन भागवत ने मुस्लिम समाज के प्रमुख लोगों से संवाद किया। बैठक में समाज प्रमुखों ने अपने-अपने प्रभार क्षेत्र में किए गए कार्यो का विवरण पेश किया। संघ प्रमुख भागवत के साथ संवाद के पहले दिन रविवार को मुस्लिम मंच के प्रतिनिधियों ने सीएए-एनआरसी का समर्थन किया। साथ ही अयोध्या में भव्य श्रीराम मंदिर के निर्माण पर हर्ष व्यक्त किया। मंच के प्रतिनिधियों ने पूर्ण गोहत्या बंदी की मांग की। साथ ही कश्मीरी नेता महबूबा मुफ्ती और गुपकार गैंग का विरोध किया।

बैठक में सहसरकार्यवाह कृष्ण गोपाल, संपर्क प्रमुख रामलाल और मुस्लिम मंच के इंद्रेश कुमार शामिल हुए। बैठक में शामिल होने छत्तीसगढ़ से पहुंचे मंच के गोसेवा प्रकोष्ठ के फैज खान ने भी कार्यो का वृत्त पेश किया। फैज ने बताया कि गोसेवा प्रकोष्ठ ने देशभर में अब तक 15 हजार किलोमीटर की यात्रा की है। इस यात्रा में गाय के महत्व के बारे में समाज के लोगों को बताया गया और जागरूकता अभियान चलाया गया। इसके साथ ही मंच ने गाय और मुस्लिम किताब भी प्रकाशित की है, जिसे गांव-गांव पहुंचाया जा रहा है। इस किताब में मुस्लिम समाज और गाय के महत्व के बारे में विस्तार से जानकारी दी गई है।

रविवार को संवाद के पहले सत्र में संघ प्रमुख भागवत ने चुनिंदा प्रतिनिधियों की बातें सुनी। इसमें मुस्लिम राष्ट्रीय मंच की गतिविधियों की जानकारी दी गई। बौद्धिक प्रकोष्ठ प्रमुख सिराज कुरैशी ने समाज के बीच चलाए जा रहे अभियान की जानकारी दी। समाज की महिलाओं को मंच से जोड़ने के लिए महिला प्रकोष्ठ का गठन किया गया है।

रेशना हुसैन ने महिला प्रकोष्ठ के कार्यो के बारे में बताया कि किस तरह महिलाओं को आर्थिक रूप से मजबूत किया जा रहा है। मंच के माध्यम से किस तरह रोजगार उपलब्ध कराया जा रहा है। सेवा प्रकोष्ठ के राजा रईस और पर्यावरण प्रकोष्ठ के फारख ने मंच के कार्यो की जानकारी दी।

RELATED ARTICLES

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments