उपचुनाव में 3 मंत्री हारे, अब शिवराज कैबिनेट में 6 मंत्री पद खाली

0
8

28 विधानसभा सीटों पर हुए उपचुनाव में 14 मंत्री भी मैदान में थे। जिनमें से तीन मंत्रियों को हार का सामना करना पड़ा। लिहाजा इन मंत्रियों को अब मंत्री पद छोड़ना पड़ेगा। जिससे एक बार फिर शिवराज सरकार के मंत्रिमंडल का विस्तार हो सकता है। मौजूदा वक्त में पहले से एक मंत्री पद खाली था। जबकि दो मंत्रियों को 6 महीने का समय पूरा होने के चलते इस्तीफा देना पड़ा था। जबकि चुनाव हारने के बाद तीन मंत्रियों को इस्तीफा देना पड़ेगा। ऐसे में शिवराज सरकार में 6 मंत्री पद खाली हो जाएगे। जिससे पहले मंत्री बनने से चूक गए भाजपा विधायकों को एक बार फिर मंत्री बनने की उम्मीद जगी है। 

उपचुनाव के नतीजे आने के बाद अब विधानसभा अध्यक्ष का चयन भी मुख्यमंत्री शिवराज के लिए बड़ी चुनौती हो सकती है। फिलहाल रामेश्वर शर्मा प्रोटेम स्पीकर के तौर पर यह जिम्मेदारी निभा रहे हैं। इस पद के लिए पिछली बार विधानसभा अध्यक्ष रहे सीतासरन शर्मा और विंध्य अंचल से आने वाले केदार शुक्ला का दावा मजबूत माना जा रहा है। जबकि यशपाल सिसोदिया और गिरीश गौतम के लिए भी यह जिम्मेदारी मिल सकते हैं। इसके अलावा अजय विश्नोई के नाम की चर्चा भी विधानसभा अध्यक्ष के लिए पहले भी चलती रही है। जिससे उनके नाम पर भी मुहर लग सकती है।

ads

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here